Breaking News

WhatsApp ग्रुप के मेंबर हो जाएं सावधान! छोटी सी गलती आपको पहुंचा सकती है जेल

नई दिल्ली: अगर आप भी व्हाट्सएप का इस्तेमाल करते हैं तो यह खबर आपको चौंका सकती है। मामला मध्य प्रदेश के राजगढ़ जिले का है जहां व्हाट्सएप के एक ग्रुप मेंबर को एक लापरवाही की वजह से बड़ी कीमत चुकानी पड़ रही है और वह पिछले पांच महीनों से जेल की सजा काट रहा है।
दरअसल बीएससी के छात्र जुनैद खान एक वॉट्सऐप ग्रुप में जुड़ा हुआ था। उस ग्रुप के तत्कालीन एडमिन ने एक आपत्तिजनक फॉर्वर्ड मैसेज ग्रुप में डाला और फिर ग्रुप के सदस्यों द्वारा मैसेज के हुए विरोध के बाद तुरंत ग्रुप छोड़ दिया। जिसके बाद जुनैद ग्रुप का डिफॉल्ट एडमिन बन गया। व्हाट्सएप पर भावनाएं आहत करने वाले एक पोस्ट को लेकर राजगढ़ जिले के तलेन शहर में का विरोध हुआ और थाने जाकर शहर के ही लोगों ने पोस्ट डालने वाले इरफान खान के खिलाफ केस दर्ज करने की मांग की।
मामले में पुलिस ने कार्रवाई करते हुए इरफान के साथ ही एडमिन राजा गुर्जर को थाने में बुलाकर पूछताछ की। इस बीच राजा गुर्जर ग्रुप से लेफ्ट हो गया। राजा के लेफ्ट होने के बाद दो और ग्रुप सदस्य एडमिन बने, लेकिन एक के बाद एक तीन लोग लेफ्ट किए। ऐसे में नया एडमिन जुनैद मेव बन गया। इस पूरे मामले में पुलिस ने जल्द ही कार्रवाई करते हुए जुनैद को गिरफ्तार कर लिया। पिछले पांच माह से जुनेद राजगढ़ जेल में है और उस पर राष्ट्र द्रोह का प्रकरण चल रहा है।पुलिस के अनुसार जब इस मामले पर कार्रवाई की गई तो जुनैद उस व्हाट्सऐप ग्रुप का एडमिन था, ऐसे में जुनैद ही उस मैसेज के लिए जिम्मेदार है।  लेकिन जुनैद के भाई फारुख के अनुसार, आपत्तिजनक पोस्ट शेयर किए जाने के वक्त एडमिन जुनैद नहीं था लेकिन रियल एडमिन के और अन्य ग्रुप मेंबर्स के ग्रुप छोडऩे के बाद जुनैद ऑटोमेटिकली ग्रुप का एडमिन बन गया। देशद्रोह का मामला होने के कारण कोर्ट ने भी जुनैद को जमानत देने से इनकार कर दिया जिसके कारण वह बीएससी की परीक्षा भी नहीं दे सका।

About Anil Gupta

Check Also

जियो की टक्कर में Vodafone ने उतारा 99 रुपए का पैक, मिलेगा ये फायदा

टेलीकॉम मार्केट में जियो की एंट्री के बाद एयरटेल, वोडाफोन, आइडिया और बीएसएनएल के बीच …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *