प्रियंका ने स्मृति पर साधा निशाना, कहा- जूते बांटकर अमेठी की जनता का किया अपमान

0
16

अमेठीः कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि अमेठी लोकसभा सीट से भाजपा उम्मीदवार स्मृति ईरानी ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को नीचा दिखाने के लिए यहां लोगों को जूते बांटकर अमेठी का अपमान किया है। प्रियंका ने फुरसतगंज चौराहे पर आयोजित नुक्कड़ सभा में कहा कि स्मृति जनता से झूठ कह रही हैं कि राहुल अमेठी नहीं आते। यहां के लोगों को सारी सच्चई पता है। जनता यह भी जानती है कि किसके दिल में अमेठी है और किसके दिल में नहीं। चुनाव में बहुत से बाहरी लोग आ गये हैं।

उन्होंने कहा कि स्मृति ईरानी ने लोगों को जूते बांटे, यह कहने के लिये कि अमेठी के लोगों के पास जूते भी नहीं हैं पहनने के लिए। वह सोच रही हैं कि ऐसा करके वह राहुल जी का अपमान कर रही हैं। सच तो यह है कि वह अमेठी का अपमान कर रही हैं। अमेठी और रायबरेली की जनता ने कभी किसी से भीख नहीं मांगी। प्रियंका ने कहा कि आप इनको सिखाइये कि अमेठी और रायबरेली के लोग अपना सम्मान करते हैं, किसी के सामने भीख नहीं मांगते। भीख मांगना है तो वो लोग खुद आपसे वोटों की भीख मांगें।

ANI UP

@ANINewsUP

Priyanka Gandhi Vadra: Ye Smriti Irani ji yahan aai aur unhone joote baante ye kehne ke liye ki inke pas joote bhi nahi hai pehene ke liye. Ye soch rahi hain ki Rahul ji ka apmaan kar rahi hai, ye kar rahi hain Amethi ki janta ka apmaan.

128 people are talking about this

मालूम हो कि स्मृति ने हाल में अमेठी के गौरीगंज क्षेत्र में एक जनसभा में कथित तौर पर कहा था कि बरौलिया गांव के प्रधान जब उनसे मिलने के लिये दिल्ली गये थे तो उनके पैरों में ठीक से चप्पल भी नहीं थी। ‘‘तब मैंने उसकी व्यवस्था करायी थी और गांव के विकास के लिये 16 करोड़ रुपये दिलवाये थे।’ कांग्रेस महासचिव ने कहा कि अमेठी में फूड पार्क बनने से क्षेत्र के पांच लाख किसानों को फायदा हो सकता था। फूड पार्क रुकवाया क्यों, आपका स्मृति भला चाहती हैं तो अमेठी में फूड पार्क खोलेंगी या जूते बांटेंगी?

उन्होंने कहा कि आपने पुश्तों से देखा है कि पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी अमेठी के गांवगांव में जाते थे, आप अपने बुजुर्गों से पूछिये। उस वक्त ऐसा कोई नहीं था जिससे वह ना मिले हों। वहीं, वाराणसी में क्या स्थिति है? प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अपने ही संसदीय निर्वाचन क्षेत्र के एक भी गांव में हाल लेने नहीं गये। आपके मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गरीबों के गांव में जाने से पहले उनके हाथमुंह धुलवाते हैं।

चौराहे पर मिलने वाला एक भी नौजवान यह नहीं कहता कि इन पांच साल में मुझे रोजगार मिला। इस सरकार के राज में 50 लाख रोजगार घटे हैं। उन्हीं लोगों ने ये रोजगार घटाये जो हर साल दो करोड़ रोजगार देने का वादा करके सत्ता में आये थे। प्रियंका ने कहा कि मैं कहना चाहती हूं कि इस चुनाव में कांग्रेस को भारी बहुमत से जिताइये। भाजपा के लोग अमेठी ही नहीं, बल्कि पूरे देश के साथ विश्वासघात कर रहे हैं। आप सभी कार्यकर्ता हर घर जाकर एकएक व्यक्ति से मिलिये।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here