पिता से मिलने जेल पहुंची मरियम नवाज को पुलिस ने किया गिरफ्तार

0
22

लाहौर: पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की बेटी मरियम नवाज को धन शोधन के मामले में यहां बृहस्पतिवार को उस समय गिरफ्तार कर लिया गया जब वह जेल में बंद अपने पिता से मिलने आई थीं। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) की उपाध्यक्ष 45 वर्षीय मरियम से 31 जुलाई को भी कथित धनशोधन और उनकी व परिवार की आय से अधिक संपत्ति को लेकर भ्रष्टाचार रोधी एजेंसी के अधिकारियों ने पूछताछ की थी। राष्ट्रीय जवाबदेही ब्यूरो ने मरियम को लाहौर की कोट लखपत जेल से गिरफ्तार किया।

एनएबी के अभियोजक हाफिज असादुल्लाह अवान ने बताया कि मरियम को शुक्रवार सुबह जवाबदेही अदालत में न्यायाधीश के सामने पेश किया जाएगा। उन्होंने कहा कि नवाज शरीफ के भतीजे युसूफ अब्बास भी कल जवाबदेही अदालत के सामने पेश होंगे। एनएबी सूत्रों के मुताबिक अब्बास को भी मरियम के बाद गिरफ्तार कर लिया गया।

मरियम को हिरासत में लेने को लेकर मरियम औरंगजेब और एहसान इकबाल सहित पीएमएल (एन) पार्टी के नेताओं से नेशनल असेंबली के बाहर प्रदर्शन किया। पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी के अध्यक्ष बिलावल भुट्टो जरदारी ने भी सुश्री मरियम की गिरफ्तारी का विरोध किया और इसकी निंदा की। मरियम की गिरफ्तारी को लेकर पाकिस्तान के पंजाब प्रांत की विधानसभा में एक प्रस्ताव भी पारित किया गया।

उल्लेखनीय है कि मरियम को एनएबी के सामने 31 जुलाई को सीएसएम मामले में पेश होना था। उनका बयान सीएसएम में संदिग्ध व्यापारिक लेन-देन को लेकर दर्ज होना था। मरियम सीएसएम की प्रमुख शेयरधारकों में से एक हैं। एनएबी सूत्रों ने डॉन को बताया कि जनवरी 2018 में पीएमएल (एन) सरकार के आर्थिक निगरानी विभाग ने एनएबी के समक्ष धन शोधन कानून के तहत सीएसएम में करोड़ों रुपये के लेन-देन की रिपोटर् दर्ज करायी थी। सूत्रों ने बताया कि एनएबी ने अक्टूबर 2018 में इस मामले की जांच शुरू कर दी थी जिसमें पाया कि नवाज शरीफ, मरियम नवाज, शाहबाज शरीफ और अब्बास शरीफ के परिजन इस कंपनी के शेयर धारक हैं। इनके अलावा संयुक्त अरब अमीरात और ब्रिटेन के कुछ लोग भी इसमें शामिल हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here