पति की लाश पर खूब बहाए थे आंसू, एक कॉल ने खोली बेवफा पत्नी की पोल

0
1

वेस्ट दिल्ली: पति की हत्या करने के बाद अपना जुर्म छुपाने के लिए पत्नी उसकी लाश से लिपट लिपटकर खूब रोती रही। परिवार और पड़ोसियों ने भी लाश से उसको हटाने की कोशिश की। लेकिन पुलिस ने पत्नी के इस ड्रामे का जब अंत कर उसे प्रेमी के साथ गिरफ्तार किया। प्रेमी की पहचान सागर उर्फ बलवा के रूप में हुई है। पुलिस ने वारदात में इस्तेमाल रस्सी भी जब्त कर ली है। सूत्रों की मानें तो आरोपी पत्नी ने हत्या करने के बाद अपने प्रेमी से फोन पर 3 से 4 बाद बातें भी की थी। दोनों ने अन्तिम संस्कार के बाद बहाने से दिल्ली छोड़कर शादी करने की योजना भी बना ली थी, लेकिन दोनों अपने मंसूबों पर कामयाब नहीं हो सके। डेढ़ साल की इकलौती बच्ची का कौन पालन पोषण करेगा। इस बारे में परिवार में भी तरह तरह की बातें हो रही हैं।

बाहरी उत्तरी जिला के पुलिस उपायुक्त गौरव शर्मा ने बताया। पीसीआर को सुबह 7:09 बजे कॉल मिली। कॉलर ने बताया कि भाई को किसी ने मार डाला है। पुलिस सिसोदिया मोहल्ला समयपुर बादली पहुंची। पहली मंजिल पर सोनू उर्फ झांडू मृतावस्था में फर्श पर पड़ा था। उसके गले में रस्सी का फंदा लगा हुआ था। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर अस्पताल पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। शुरुआती जांच में पता चला कि सोनू संजय गांधी ट्रांस्पोर्ट में चालक के तौर पर नौकरी करता था।

अवैध संबंधों का खुला राज
पुलिस ने सोनू की पत्नी से पूछताछ शुरू की, जिसने पुलिस को गुमराह करने की काफी कोशिश की। सख्ती से पूछताछ करने पर उसने अपने प्रेमी सागर के बारे में बताया। जिसके बाद उसे भी गिरफ्तार कर लिया गया। दोनों से पूछताछ करने पर पता चला कि सोनू की पत्नी सागर से प्यार करती थी। सोनू के जाने के बाद वह कई बार उसके घर आ जाया करता था।

प्रेमी संग गला घोंटकर की थी हत्या
सोनू को जब इस बारे में पता चला था। पत्नी से उसकी कहासूनी हुई थी। दोनों में हाथापाई तक हो गई थी। जिसके बारे में उसने सागर को बताकर सोनू को रास्ते से अलग कर शादी करने की बात कही थी। वारदात वाले दिन खाना खाने के बाद छत का दरवाजा पत्नी ने खुला छोड़ दिया था। रात करीब ढाई बजे सागर कमरे में आया। जिसने सोनू की उसकी सहायात से गला घोटकर हत्या कर दी। वारदात के बाद सागर उसी रास्ते से अपने घर में चला गया था। सुबह जब पत्नी सोकर उठी उसने पति की हत्या का  ड्रामा रच डाला था। जिसमें उसने और उसकी नंद ने पड़ोसियों पर शक जाहिर किया था।

वारदात की रात दोनों में हुई थी बातचीत 
वारदात के वक्त वह अपनी पत्नी और डेढ़ साल की बेटी के साथ सो रहा था। पत्नी को बराबर में सोते हुए कोई हलचल तक महसूस नहीं हुई। सोनू के परिवार ने भी पुलिस की कार्यवाई पर सवाल खड़े किए। पुलिस की टीम गठित कर आरोपी को पकडऩे का जिम्मा सौंपा गया। शुरुआती जांच में ही पुलिस ने परिवार के फोन नंबर की सीडीआर खंगालने की कोशिश की। सोनू की पत्नी के फोन की सीडीआर खंगालने पर इलाके में ही रहने वाले सागर की कॉल सबसे ज्यादा दिखाई दी। वारदात की रात को भी दोनों में बातचीत हुई थी। पुलिस को मामला अवैध संबंधों का लगने लगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here