पानी में बह रहे तीनों बच्चों को बचाया लेकिन खुद पैर फिसलने से नाले में बहा, मिली दर्दनाक मौत

0
10

भोपाल: पत्नी-बच्चों और रिश्तेदारों के साथ केरवा पहाड़ी के पीछे ग्राम बोरदा इलाके में घूमने पहुंचे एक वयक्ति और उनके तीन बच्चे अचानक पानी बढ़ने से फंस गए। व्यक्ति ने बच्चों को किसी तरह सुरक्षित बाहर निकाल दिया, लेकिन पैर फिसलने के कारण खुद नाले में बह गए। सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंचे ग्रामीणों और रेस्क्यू टीम ने करीब आधे घंटे की मशक्कत के बाद ड्राइवर का शव पानी से बाहर निकला। पुलिस ने पंचनामा बनाकर लाश को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। कोलार पुलिस के मुताबिक गरम गड्ढा थाना बजरिया में रहने वाला रिजवान खान (35) प्राइवेट स्कूल बस में ड्राइवरी करता था। उसकी कोलार स्थित ग्राम बोरदा में रिश्तेदारी है। मंगलवार को वह अपनी पत्नी,  तीन बच्चों और रिश्तेदारों के साथ घूमने निकला था। सभी लोग केरवा पहाड़ी के पीछे ग्राम बोरदा के पास बाबाझिरी पहुंचे। रिजवान की पत्नी और रिश्तेदार झिरी के किनारे पर थे, जबकि वह अपने तीनों बच्चों के साथ एक पत्थर के नीचे पानी से भरे गड्ढे में खेल रहा था। इसी दौरान बारिश तेज होने पर केरवा डैम की तरफ से आए तेज बहाव के साथ नाले में पानी बढ़ गया। अचानक पानी बढ़ने के कारण रिजवान और बच्चे फंस गए।
रिजवान ने हिम्मत दिखाते हुए एक-एक कर तीनों बच्चों को किनारे पर पहुंचाया। उसके बाद अचानक उसका पैर फिसला और नाले में बह गया। मौके पर मौजूद लोगों ने ग्रामीणों की मदद से उसकी तलाश की, लेकिन वह नहीं मिला। इसके बाद पुलिस को सूचना दी गई। मौके पर पहुंची रेस्क्यू टीम ने नाले में सर्चिंग अभियान चलाया, जिसके बाद करीब आधे घंट में उसका शव बरामद हुआ। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। हादसे के बाद रिजवान की पत्नी की हालत बिगड़ गई थी। परिवार वाले उसे संभालने का प्रयास करते रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here