शौरीपुर मे मंदिर के बाद अध्ययन और आरोग्य केन्द्र बनेगा

 

आगरा बाह बटेश्वर महाभारत कालीन नगरी शौरीपुर 22वें तीर्थंकर भगवान नेमीनाथ की जन्म एवं च्यवन कल्याणक भूमि है. सोमवार को नये मन्दिर में प्रतिमा प्रतिष्ठा के लिए कुम्भ स्थापना पूजा होगी. शौरीपुर पहुंचे राष्ट्रीय संत पदम सागर सूरीश्वर महाराज ने कहा कि मन्दिर के बाद शौरीपुर में सरस्वती का अध्ययन केन्द्र बनवाया जायेगा और आरोग्य केन्द्र की भी स्थापना होगी. 5 साल पहले शौरीपुर में भगवान नेमीनाथ के मन्दिर की जीर्णशीर्ण अवस्था पर चिन्ता व्यक्त करते हुए नव निर्माण का पदम सागर सूरीश्वर महाराज ने संदेश दिया था. जिसपर देश भर के अनुयायियों की मदद से शौरीपुर श्वेताम्बर तीर्थ ट्रस्ट ने नये मन्दिर का निर्माण कराया है. नये मन्दिर में भगवान नेमीनाथ, उनकी माता शिवा देवी, पिता समुद्र विजय की प्रतिमाओं की प्रतिष्ठा के लिए राष्ट्र संत सूरीश्वर महाराज रविवार को शौरीपुर पहुंचे. उन्होंने बताया कि शौरीपुर में मानसिक शान्ती मिलती है. मन्दिर का निर्माण पूरा होने के बाद यहॉ पर सरस्वती का अध्ययन केन्द्र खोला जायेगा. आरोग्य केन्द्र की स्थापना भी की जायेगी, जिससे जरूरत मंद घर के नजदीक असाध्य रोगों का इलाज करा सकेगें. पूर्व सांसद निहाल सिंह जैन और प्रतिष्ठा महोत्सव के प्रवक्ता विनीत गोलेच्छा ने बताया कि सोमवार को प्रतिमा प्रतिष्ठा के लिए कुम्भ स्थापना पूजा होगी. इसके लिए देश भर से जैन समुदाय के लोग शौरीपुर पहुंचे है. बता दें कि यह महोत्सव 15 दिन तक चलेगा

————————————-
———————————-
रिपोर्ट अनुज कुमार कुशवाह
P k s news

About Anil Gupta

Check Also

यूपी मे पुलिस अफसरो के तबादले

लखनऊ (रेखा बोरा) योगी सरकार ने पुलिस विभाग में 50एएसपी के तबादले कर दिये है …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *