Breaking News

मॉब लिंचिंग पर जागी मोदी सरकार, राज्यों को दिये ये निर्देश

मॉब लिंचिंग मामलो को लेकर केंद्र सरकार ने अपनी चिंता जताई है और ऐसा लग रहा है कि इस तरह की बढ़ती घटनाओं की रोकथाम करने के लिए मोदी सरकार जाग चुकी है। केंद्र सरकार ने गुरुवार को राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों को इस तरह की घटनाओं को रोकने के लिए दिशा निर्देश जारी किए हैं। सोशल मीडिया पर बढ़ती बच्चों के चोरी होने की घटनाओं के बाद मॉब लिंचिंग की कई घटनाएं सामने आई हैं।

एक सीनियर अफसर ने बताया कि गृह मंत्रालय ने राज्यों से बच्चा चोरी की अफवाह के चलते भीड़ द्वारा पीट-पीटकर मार दिए जाने की घटनाओं को रोकने की दिशा में कदम उठाने को कहा है। इस तरह की किसी अफ़वाह पर केंद्रीय गृह मंत्रालय ने राज्य सरकारों से नज़र रखने को कहा है। इसके साथ केंद्र शासित प्रदेश और राज्यों से कहा है कि वो जिला प्रशासन और संवेदनशील इलाकों की पहचान करने और इससे संबधित जानकारी और जागरुकता पैदा करने के लिए सामुदायिक कार्यक्रमों के आयोजनों के निर्देश जारी करें। बीते कुछ दिनों में देश के कई हिस्सों में मॉब लिंचिंग घटनाएं सामने आई हैं, जिस पर चिंता जताते हुए केंद्र सरकार ने इन मामलों की उचित जांच करने के लिए कहा है। झूठी अफ़वाहों के चलते भीड़ ने कितने लोगों को जान से मार दिया तो कितने लोग इन घटनाओं के चलते हुए घायल हुए हैं।

मॉब लिंचिंग की घटनाओं पर गौर करें तो महाराष्ट्र में गत 25 दिनों में मॉब लिंचिंग की 14 घटनाएं सामने आती है, जिनके तथ्य चौंकाने वाले हैं। ज्यादातर घटनाओं में पीड़ित स्थानीय निवासी ना होकर पड़ोस के गांव, शहर व राज्यों से संबधित पाए गए हैं। बीतेन 25 दिनों की घटनाओं में अब तक 9 लोग अपनी जान गंवा चुके है जबकि 10 घायल हुए हैं। इन सभी घटनाओं को अंजाम स्थानीय लोगों ने सोशल मीडिया और व्हाट्सएप पर बच्चों के चोरी होने की अफ़वाह को सच मान कर अंजाम दिया।

About Anil Gupta

Check Also

नेपाल में कैलाश मानसरोवर में फंसे 1,200 से अधिक भारतीय यात्रियों को सुरक्षित निकाला

काठमांडू: नेपाल के पर्वतीय सिमीकोट क्षेत्र से 1,200 से अधिक भारतीय तीर्थयात्रियों को सुरक्षित जगहों …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *